लाल बत्ती नहीं अब ‘एल’ बोर्ड का कोहिनूर लगेगा

जहाँ भूमि के नियमों का पालन नहीं होता वहाँ ट्रैफिक के नियमों का क्या होगा ?

भारतीय सड़क मतलब स्ट्रीट फूड, शॉपिंग और पार्किंग का जागृत अड्डा ! भारतीय सड़कें अर्थात व्यावसायिक स्थान ! हमारे देश में अच्छी सड़क बाज़ार के लिए अच्छा कमर्शियल लोकेशन है ! बचपन के हैप्पी बर्थडे पार्टी से लेकर सारे त्योहार, जवानी का हुड़दंग और शादी ! आंदोलन, जुलुस, भाषण के पंडाल, से लेकर अंतिम यात्रा और उसके भोज तक का सफ़र सब सड़क पर ! माता की चौकी और देवताओं का पलंग हम सब सड़क पर लगा लेते हैं ! सड़क पर रोज़ का आना जाना अब योग का एक ऐसा आसन हो गया है जिसे बाबा रामदेव द्वारा बेचा जाना बचा है ! सड़क की इसी बाज़ारू संस्कृति के कीचड़ में खिला कमल है लालबत्ती वाली कार ! सड़क की भीड़ सिर्फ़ लाल बत्ती को रास्ता देने के लिए तैयार है बाकी सबको सड़क पर दंगल लड़ के जीतना होता है फिर जाना होता है ! जिस भूमि पर ट्रैफिक लाइट और डिस्को लाइट में अब भी फर्क करना बचा है वहाँ लाल बत्ती ही एक नियम है जिसका सब पालन करते हैं !

जहाँ पैदल चलने वालों के लिए कोई फुटपाथ नहीं वहाँ भारतीय सड़कों की कुछ विशेषताएँ हैं ! भारतीय सड़कों पर हम भारतीय ड्राइविंग कम कुश्ती ज्यादा करते हैं ! हमारे यातायात व्यवहार में गाली और हॉर्न देना शामिल है ! गाडी चलाते हुए भड़कना – फड़कना पड़ता है ! भारतीय सड़कों पर अक्सर आपको अपना रास्ता निकालने के लिए मौखिक रूप से सामने वाले को धमकाना पड़ता है ! मारपीट के लिए तैयार रहना पड़ता है इसीलिए लाल बत्ती का लगाना जरुरी होता है ! लाल बत्ती मतलब भारतीय सड़क पर अश्वमेध का घोड़ा जिसे आप पकड़ नहीं सकते, रोक नहीं सकते, किसी कीमत पर बाँध नहीं सकते ! लाल बत्ती के आते ही सब समर्पण कर देते हैं ! मानवतावादी, बुद्धिवादी, एक्टिविस्ट, चिंतक, लेखक, कवि, गाड़ी चलाते हुए सभी ऐसा ही करते हैं ! ड्राइविंग करते समय भारतीय अगर रियर – व्यू मिरर का उपयोग करने लगें तो उनको अपनी विनम्रता उसमे जरूर दिख जाएगी !

लाल बत्ती के कल्चर की तरह लाल बत्ती के नियम बहुत अलग हैं ! लाल बत्ती पर कोई कानून लागू नहीं हैं ! कोई लेन प्रणाली की बंदिश नहीं, कोई यातायात नियंत्रण नहीं, कोई अंडरपास या ओवरहेड क्रॉसिंग कुछ भी नहीं ! सभी गाड़ियों से आप चिपक सकते हैं पर लाल बत्ती से चिपक सकें इतना फेविकोल किसी की छाती में नहीं ! लाल बत्ती देख कर हॉर्न भी खामोश हो जाता है !

एक मई से लाल बत्ती का इस्तेमाल बंद करने के फैसले के बाद भारतीयों को लाल बत्ती निकाल के अपनी – अपनी गाडी में ‘एल’ बोर्ड लगा लेना चाहिए ! ट्रैफिक सिग्नल का पालन करना, सीट बेल्ट पहनना, काले काँच की खिड़कियां न लगाना, ड्राइविंग करते समय फोन पर बात न करना और अन्य सभी बुनियादी नियमों का पालन करना लाल बत्ती की तरह ही ‘एल’ बोर्ड पर लागु नहीं होता ! ‘एल’ बोर्ड का पावर लाल बत्ती से कम नहीं ! ‘एल’ बोर्ड ड्राइवर की क्षमता का प्रतीक है यह दर्शाता है कि कार चलाने वाला व्यक्ति एक लर्नर है और अन्य ड्राइवरों को लाल बत्ती की गाडी की तरह उसका ध्यान रखना चाहिए ! इसका मतलब है चालक सीखने के चरण में है और लाल बत्ती की तरह सड़क पर उसका सात खून माफ़ है !

जब गाडी का ब्रेक खराब होता है तो मैं हॉर्न तेज़ करवा लेता हूँ ! हर भारतीय खास है, हर भारतीय वीआईपी है ! हम सड़क के मालिक हैं ! गाड़ियों में लाल बत्ती नहीं अब ‘एल’ बोर्ड का कोहिनूर लगेगा !

इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन

मैं एक इंजीनियर हूँ ! मैंने आईआईटी से पढ़ाई की है और मुझे पता है ईवीएम में गड़बड़ी की जा सकती है ! इसलिए मैंने खुद ही एक इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन बनाने की ठान ली है, जो 2019 के आम चुनाव में काम आ सकता है !

वर्तमान ईवीएम मतलब इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन में कई खामियाँ हैं ! मेरे ख्याल से इसमें ‘चाइल्ड लॉक’ का नहीं होना इसकी सबसे बड़ी कमी है, जिसकी वजह से ईवीएम से छेड़छाड़ संभव है !

स्वतंत्र तथा निष्पक्ष चुनाव किसी भी देश के लोकतांत्रिक मूल्यों के लिए महत्‍वपूर्ण होते हैं ! इंजिनियर होने के नाते मैं भी वोटिंग सिस्टम को जितना हो सके उतना सरल करने के पक्ष में हूँ ! फर्जी मतदान तथा मतदान केन्द्र पर कब्जा और हैकिंग जैसे दोष पूर्ण व्यवहार निर्वाची लोकतंत्र भावना के लिए गंभीर खतरे हैं ! इसलिए मैं चुनाव आयोग से ये प्रार्थना करूँगा की देश का अगला आम चुनाव मेरी बनायीं हुई इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन से ही कराए !

मेरी ही तरह जो यूजर ईवीएम से नाखुश हैं उनके लिए मेरी मशीन एक खुशखबरी है ! ढेरों बैठकें करने के बाद और एक दर्ज़न प्रोटोटाइपों की जांच – परीक्षण एवं व्यापक फील्ड ट्रायलों के बाद ही मैंने अपने इस इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन को फाइनल किया है ! यह छेड़छाड़ मुक्त तथा संचालन में सरल है ! मेरी बनायीं हुई मशीन पूरी तरह से सुरक्षित हैं और कोई भी यह नहीं साबित कर पाएगा कि मेरी ईवीएम से छेड़छाड़ हो सकता है !

मेरा मानना है इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन सिर्फ मतदान ही न कराये बल्कि कपडे धोये और जूस भी निकाल सके ! जरुरत पड़ने पर ऐ टी एम बन जाए और बहुत ही कम समय में इस से गाजर का हलवा भी गर्म किया जा सके ! सर्वजन हिताय सर्वजन सुखाय के सिद्धांत पर बनी ये मशीन जनता के काम आने वाली सभी मशीनों का गठबंधन है ! आम लोगों के लिए बनी मेरी मशीन सभी मशीनों के साथ ठीक से कैलिब्रेट हुई हैं ! लोकतंत्र की हिफाजत के लिए मैं किसी भी मशीन से हाथ मिलाने के लिए तैयार हूँ !

सब जानते हैं इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन पांच – मीटर केबल द्वारा जुड़ी दो यूनिटों से बनी होती है इसलिए हर ईवीएम के दो हिस्से होते हैं ! एक हिस्सा होता है बैलेटिंग यूनिट जो मतदाताओं के लिए होता है, दूसरा होता है कंट्रोल यूनिट जो कि पोलिंग अफ़सरों के लिए होता है ! वर्तमान ईवीएम की ये सरलता ही सबसे बड़ा खतरा है ! जब तक मशीन में कुछ ऐसे यूनिट न हों जिसे समझने के लिए उसे ठोका जाए तब तक कोई भी मशीन मिशनरी है, मशीन नहीं !

कोई भी मशीन खराब नहीं होती पर उसे उपयोग करने वालों की उँगलियों का सब दोष होता है ! जनता की उँगलियों ने हर मशीन को इधर उधर ऊँगली करके खराब कर डाला है ! वैसे तो हर भद्र भारतीय नागरिक आपस में एक दुसरे को दिन पर उंगल करते हैं पर मशीन सामने आते ही उनकी उँगलियों के होश उड़ जाते हैं ! घबराहट में इधर की ऊँगली उधर कर के सारा खेल बिगाड़ देते हैं ! एक मशीन में ठीक से ऊँगली तक नहीं कर पाते हैं आज के आम नागरिक ! अंगुल न जाने मशीन खराब ! इस भीषण समस्या से लड़ने के लिए मेरी मशीन ‘ऑय सेंसर’ से लैस होगी और एक ऍप से सबके आँखों के इशारे पर नाचेगी ! आप नेता की तरफ निहारेंगे और मशीन कपडा धोते धोते वोट गिरा देगी !

हर बैलट बटन के पास एक स्पीकर भी होता है जो हर वोट के सही ढ़ंग से दर्ज होने के बाद तेज़ आवाज़ करता है और फिर चुप हो जाता है ! मेरे हिसाब से स्पीकर का चुप रहना स्पीकर की बर्बादी है ! मेरी मशीन में ये स्पीकर क्रिकेट कमेंट्री से ले कर ऍफ़ एम के गाने तक सुना सकेंगे ! अच्छी बात यह भी है कि यह मशीन मिक्सर और ग्राइंडर की तरह भी इस्तेमाल किया जा सकता है ! मेरी यह मशीन मिक्सिंग, ग्राइंडिंग, ब्लेंडिंग, ग्रेटिंग और जुसिंग के लिए भी एक बढियां ऑप्शन है !

देश में बहु के बाद अब मशीन की बारी है ! जैसे कुशल सास को अपने बहु से हर काम कर लेने की उम्मीद होती थी वैसे ही अब जनता को अपने इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन से हर काम के हो जाने की उम्मीद है ! मेरी मशीन यह चैलेंज लेने को तैयार है !

पहले गैस पर खाना बनाने के लिए किचन में काफी समय बिताना पड़ता था ! पर आज कल माइक्रोवेव यह सब काम बहुत जल्दी कर देता है और देशवासी अपना समय किचन के बजाए फेसबुक और व्हाट्सएप में बिता सकते हैं ! इसी बात को ध्यान में रख कर मैंने इसमें एक माइक्रोवेव का यूनिट भी जोड़ दिया है ! यह सब यूनिट पांच मीटर के सरकारी केबल से ही जुड़ा होगा ! केबल की बर्बादी हम नहीं होने देंगे ! ईवीएम के बचे हुए केबल से मशीन को देश से और देश को मशीन से बाँधने का प्रयास करेंगे !

मैंने इस मशीन में एक बहुत ही तगड़ा मोटर लगाया है ! यह मोटर एक मिनट में करीब दुनिया भर के अठारह हज़ार चैनल के चक्कर लगाने के काबिल है ! ख़ास बात यह भी है कि यूज़र्स इस मशीन को प्राइम टाइम पर चार अलग स्पीड पर इस्तेमाल कर सकते हैं !

इसके जूसर मिक्सर का मोटर पाँच सौ पचास वाट की बिजली पर चलती है जो की मासिक बिल के नज़रिये से ज़्यादा नहीं है ! इतनी पावर से आप मोटे छिलके वाली चीज़ें और हार्ड मसाले आसानी से पीस पाएंगे, पर मोटे छिलके वाले हार्ड नेता को ढूँढ के लाना और मशीन का इस्तेमाल करना आज की तारिख में नागरिक ग्राहकों की एक फैंटसी है !

यह मशीन सेमीऔटोमैटिक है ! ये भारतवासियों को चुनाव की याद दिलाएगा और समय आने पर इलेक्शन अलार्म भी बजाएगा ! यह जूसर मिक्सर वाला ई वी एम एक खूबसूरत बॉडी में आता है जो बाहर से बड़ी ही शानदार दिखती है ! मैंने इसको बनाने के लिए मज़बूत प्लास्टिक का उपयोग किया है ! इस पर पटक कर नारियल भी फोड़ सकते हैं ! चुनाव से पहले आम आदमी अगर हर ईवीएम से नारियल फोड़ लेगा तो हार का ठीकरा ईवीएम पर कभी नहीं फोड़ पायेगा !

इन सभी सुविधाओं के साथ आकर्षक डिज़ाइन और छोटे साइज की बेहतरीन रंगों के जबरदस्त कलर कॉम्बिनेशन की मेरी ये इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन हैंडल और पैनल के साथ बहुत सस्ती है ! मेरे द्वारा बनाया गया यह गजब का डिवाइस आप बाजार से साढ़े पांच हज़ार के वर्तमान प्राइस की तुलना में सिर्फ दो हज़ार दो सौ पच्चीस रुपये में घर ला सकते हैं ! मैं इस मशीन को देश हित में सस्ती किस्तों और किफायती किराये पर भी दे सकता हूँ ! इस बारे में और अधिक जानकारी मुझसे ले सकते हैं ! उम्मीद है चुनाव आयोग भी मेरी मशीन को सुरक्षित और सही मानेगा !

वोट देने के बाद इस मशीन से एक छपी हुई रसीद भी निकलेगी जो सभी लेन – देन के समाप्त हो जाने की लिखित घोषणा कर देगी ! वोटों की गिनती के बाद सभी नागरिक सील करने के बाद हर पोलिंग मशीन को अपना आइडेंटिटी कार्ड दिखा कर किसी मुख्यमंत्री या प्रधानमंत्री की तरह मतगणना केंद्र से अपने अपने ईवीएम को अपने कंधों पर वापस घर तक ला सकते हैं !

ईवीएम का एक डे भी हो सकता है जिस दिन दीप जला के ईवीएम दिवाली मना सकते हैं ! इसके चारो तरफ दीप लगे है जिसे बैट्री से जलाया जा सकता है ! अपने इस मशीन को मैं मेक इन इंडिया के सिंह को खाने के लिए किसी चिड़ियाघर में भी छोड़ के आ सकता हूँ ! ये कागज़ी शेरों का पेट भी भर सकता है ! इसमें स्कैनर और प्रिंटर दोनों साथ हैं !

देशवासियों आशा है कि आप सब रोजमर्रा की जिंदगी में काम आने वाली मेरी इस मल्टी परपस ईवीएम मतलब इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन को छोड़कर बाकी सब घरेलू मशीनों के बारे में भी अच्छी तरह से शिक्षित होंगे और इसको ऊँगली करते हुए सब मशीनों की ठीक से ऊँगली कर सकेंगे ! हर ऊँगली और अँगूठे पर स्याही मशीन की सच्चाई है ! क्या आपको लगता है कि मैसेज का नोटिफिकेशन स्क्रीन पर पॉप – अप होना चाहिए ? अगर हां तो मेरी मशीन में कुछ स्मार्टफोन एप्लीकेशन की मदद से आप रेलगाड़ी में रिजर्वेशन करने जैसी सुविधाएँ हासिल कर सकते हैं !

मेरी इस नयी ईवीएम से पुरानी ईवीएम की तुलना में वोट डालने के समय में कमी आती है तथा ये परिणाम भी कम समय में घोषित करती है ! मैं जानता हूँ मेरे और देश के दुश्मन मेरी इस मशीन में भी त्रुटि ढूंढ ही लेंगे पर मैं सुझावों के लिए तैयार हूँ !

राम क्षण

मादक ध्वनि संकेत सबको आकर्षित कर रहा था ! कवि ने देखा मादा नर के कलगी को बार – बार चूम रही थी ! प्रेम में दोनों के पूंछ पेट गर्दन सब एक हो गए ! साँस साँस में एक हो कर दोनों पल भर में दो बदन एक प्राण हो गए ! ये प्रेम की पराकाष्ठा थी ! यही प्रेम का मूक क्षण था ! भक्ति प्रेम और समर्पण का जादुई क्षण भी यही था ! क्रौंच के बहाने प्रकृति प्रेम में लीन थी ! सृष्टि में यही राम क्षण था ! धरती पर प्रेम का ये रूप कवि अपनी नंगी आँखों से देख रहा था और अवाक था ! उसने देखा टहनी जिस पर प्रेमी जोड़ा बैठा था, पेड़ जिसकी वो टहनी थी, आकाश जिसके नीचे वो पेड़ था और कवि स्वयं प्रेम प्रकाश में नहा रहे थे और प्रेमी जोड़े के साथ राम में रम के राममय हो गए थे ! इस क्षण सा पवित्र कुछ भी नहीं था !

सहसा एक तीर नर क्रौंच की छाती चीर गया और सूखे पत्ते की तरह वो धरती पर आ गिरा ! नर अपने ही खून की धार में भीग रहा था ! असहाय प्यासी आँखें मादा को देख रही थीं ! रक्तरंजित क्रौंच पीड़ा से छटपटा रहा था ! दर्द और दुःख अश्रु धार में बहने लगे ! तीर नर को आर पार गाँथ चूका था ! रोती हुई मादा क्रौंच भयानक विलाप करने लगी ! नर ने दर्द के नशे में धीरे धीरे ऑंखें मूँद ली ! छटपटाते क्रौंच के आर्तनाद से द्रवित होकर कवि रोने लगा ! अपने प्रेमी नर के बिछोह में मादा ने अपना सिर पटक – पटकर कर प्राण त्याग दिया ! वियोग की दुःख से उसकी छाती फट गयी ! करुणा जाग उठी ! अविरल अश्रु की धार से सब ओझल हो गया था ! कीड़े-मकोड़े, छोटे सांप, घोंघे, सीपी, सारस के सब भोजन क्रौंच वध के साथ ही दुःख में मर गए ! जब भी किसी को किसी से प्रेम हो जाता है तो उसके बिना फिर जीना आज भी मुश्किल हो जाता है ! खेती की कम होती भूमि, सिमटते जंगल, कीटनाशकों का अंधाधुंध प्रयोग और मानवों की बढ़ती आबादी तो बस सारस के गायब होने का एक कारण होंगे, प्रेम के विलाप में वाल्मीकि के श्राप के शब्द धान के खेत, दलदल, तालाब, झील, और हवा में आज भी तैर रहे हैं !

सावधान, मैं मूर्ख हूँ !

 

 Illustration : Anirban Bora

काला हास्य / Illustration : Anirban Bora

बिना किसी कारण के ख़ुशी से नाचता हुआ देख कर मुझे पुलिस पकड़ कर सवाल घर में ले गयी और पूछताछ करने लगी ! छान – बीन से यह बात सामने आई कि मैं मूर्ख हूँ ! पुलिस का कहना है कि यह अपराध है और मूर्खता साबित होने पर सात वर्ष तक की सज़ा हो सकती है.! मैंने पूछा ‘ पांच वर्ष की सजा क्या कम है जो हमें चुनाव जैसी मूर्खता के बाद मिलती है, फिर मुझे सात वर्ष की अलग से सज़ा क्यों हो ?’ छोटा मूर्ख बड़ी बात कह कर पुलिस मुझ पर हंसने लगी !

मेरी गिरफ़्तारी का पता लगते ही मूर्खता आयोग ने पुलिस से मेरी मूर्खता के मामले की रिपोर्ट मांगी ! भारतीय पुलिस ने मेरी मूर्खता को परखने का डेमॉन्सट्रेशन रखा और मुझे एक मशीन से जोड़ दिया ! डेमॉन्सट्रेशन के दौरान अलग – अलग बटन दबाने पर भी मशीन से मूर्खता की ही पर्ची निकली ! यह देख कर पुलिस मुझे ईवीएम मूर्ख कहने लगी !

मैंने पुलिस से कहा इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन जिस पर हम अपने वोट देते हैं, मैं वो नहीं हूँ ! मैं एक वोटर हूँ, वोट मशीन नहीं ! मैं एक नागरिक हूँ ! मैं मूर्ख हो सकता हूँ पर ईवीएम नहीं ! ‘क्या मेरे साथ छेड़छाड़ हो सकती है ?’ मूर्खता आयोग को मेल लिख कर पुलिस ने पूछा ! ‘छेड़छाड़ किया जा सकता है, इसलिए जब तक सिद्ध न हो जाए कि मैं मूर्ख हूँ मुझे उच्च सुरक्षा में रखा जाए ‘ जवाब मिलते ही प्रशासन हरकत में आ गया !

प्रशासन का अर्थ श्रेष्ठ विधि से शासन करना है ! मानव विकास ही इसका परम लक्ष्य है इसलिए मेरी प्रशासनिक सेवा शुरू हो गयी ! मुझे पांच मीटर के केबल से जोड़ दिया गया ! पुलिस की देख – रेख में अब मूर्खता आयोग के अलावा कोई भी मुझ तक नहीं पहुंच सकता था !

मैं जानता था कि मैं मूर्ख हूँ, पर इतना बड़ा मूर्ख हूँ कि मुझे क़ैद कर लिया जाए ये नहीं पता था ! अपनी इस दुर्लभ मूर्खता तक पहुँचने के लिए लाखों लोगों की तरह मैंने भी सैटेलाइट नेविगेशन सिस्टम का इस्तेमाल किया !

शिक्षा, लोकतंत्र, धर्म, जाति व्यवस्था, जैसे कई अलग – अलग क्षेत्रों से किये गए सवालों पर दिए गए मेरी मूर्खतापूर्ण उत्तर में भी मूर्खता आयोग को चुनावों को प्रभावित करने की शक्ति दिखाई दे गयी ! मेरी मूर्खता सिद्ध करने के लिए मेरा सीक्रेट सर्च वारंट निकाल दिया गया ! मेरी मूर्खता के बहाने वो मेरे फोन का स्मार्टनेस चेक करने लगे ! ‘आप से ज्यादा आप का फोन स्मार्ट है’ उन्होंने कहा ! मेरी अब तक की सारी वर्चुअल रियलिटी सच होने लगी ! स्मार्ट सिटी के स्मार्ट मूर्ख की स्मार्ट मूर्खता एक ही पासवर्ड से बाहर आ गयी !

मेरी ही तरह स्मार्ट होने के लिए कई लड़की – लड़के इंजीनियरिंग और मेडिकल कॉलेजों में घुसते हैं, डॉक्टर बनते है, लेखक, व्यापारी, शिक्षक, कलाकार ,वैज्ञानिक और अभिनेता बन कर अभिनय करते हैं और नेता बन जाते हैं और आखिरकार मूर्ख ही कहलाते हैं ! मूर्खता मूल्य पैदा करती है, विचार नहीं ! मेरी तरह भारत में अनेकता और एकता के आयाम में मूर्खता भी जोड़ के देखिये आपको देश ज्यादा एक लगेगा ! धर्म, भाषा और रीति – रिवाजों की विविधता के साथ हमारी मूर्खता में भी एक अद्भुत एकता है जहाँ सामूहिक बलत्कार अब नया हथियार है !

मुझे देखने कॉर्नफ्लेक्स खाता हुआ डॉक्टरों का एक दल आया ! ‘ जब मछली मरती है तो उसका सिर सबसे पहले गलना शुरू होता है और इसीलिए बदबू भी सबसे पहले वहीं से आती है ! ऑपरेशन करके हमें आप के अक्ल की तलाशी लेनी है ! ऑपरेशन जटिल है ! जीना है तो तकलीफ भी झेलनी होगी ! आप सिर्फ अपने कैलोरी पर ध्यान दें, चाहें तो किसी भी सरकारी परियोजना के बारे में बात करें ! पर विचार न करें ! विचार करने से नींद आ जाती है और नींद आपकी मूर्खता में खलल डाल सकती है ! एक हाथ ही दूसरे हाथ को धोता है !’ बारी बारी से सभी डॉक्टरों ने मुझसे ये बातें कहीं !

मुझे हल्का करने के लिए डॉक्टरों ने मेरे पेट में गैस भर दिया ! धीरे – धीरे मेरी आँख बंद होने लगी और मैं उड़ने लगा ! महँगी सब्ज़ी मंडी और बंद बूचड़खाने पर से उड़ता हुआ मैं समशान और कब्रिस्तान के ऊपर पहुँच गया ! सुनसान गली पार करती हुई एक सहमी सी लड़की के ऊपर से उड़ने लगा, खाली खेल के मैदान और दुर्घटनाग्रस्त रेलगाड़ियों के ऊपर से उड़ता हुआ मैं देश भर में फैले ड्रोन कैमरे की तरह सरकारी हवाई जहाज़ के साथ बादलों में तैर रहा था ! सूखी कोसी और मैली गंगा मुझे अपने घर बुला रही थी ! अपनी मूर्खता के साथ उड़ते – उड़ते मैं इन्फॉर्मेशन एंड ब्रॉडकास्टिंग मिनिस्ट्री से भी ऊपर उठ गया ! डिब्बाबंद मांस की तरह उड़ता हुआ देख कर फौजियों ने मुझे लपक कर नीचे उतार दिया ! मैं अस्पताल में बिस्तर पर लेटा था और सामने टीवी स्क्रीन को काला कर के कोई सरकार को आइना दिखा रहा था या मुझे मूर्ख बना रहा था, मुझे कुछ याद नहीं ! रिमोट कंट्रोल्ड चार रोबोट कार्टूनिस्टों ने मेरे पेट से गैस निकाल लिया !

क्या आपके पास पतंग उड़ाने का लाइसेंस है ? उन्होंने मुझसे पूछा ! ‘ नहीं तो ‘ मैंने चौंकते हुए कहा ! ‘ पतंग उड़ाने के लिए भी लाइसेंस की जरुरत पड़ती है ?’ मेरा सवाल सुन कर सब गोल बंद हो कर फुसफुसाने लगे ! काफी देर बाद सब बिखर के इधर उधर फ़ैल गए और एक महत्वपूर्ण सा लगने वाला आदमी मेरे पास आया और मुझे इन्टरनेट से जोड़ कर मुक्त कर गया ! ‘राइट टू इन्फॉर्मेशन एक्ट के तहत आप अपने घर जा सकते हैं ‘ ये कहता हुआ वो हॉस्पिटल से किसी विज्ञापन की तरह गायब हो गया !

ज्यादातर दफ्तरों में मशीनें, कंप्यूटर और आदमी एक जैसे होते हैं ! मेडिकल साइंस ने इतनी तरक्की कर ली है फिर भी अपनी जांच के नतीजों में वो मुझ जैसे अपने मूर्ख नागरिक को पहचान न सके ! अपनी पूरी ताकत और साहस के साथ मैं हँसने लगा ! मेरे साथ सब हंसने लगे ! अपना हेड फ़ोन कान में डाल कर इंटरनेट की अच्छी स्पीड की ख़ुशी में नाचते – नाचते मैं घर लौट आया !