हम सिनेमा को तूफान नहीं बना सके

जो उम्मीद सबको मनुष्य कृत पद्मावती से थी अब वो सबकुछ प्रकृति कृत चक्रवाती कर रहा है !
हाय रे मीडिया और मार्केटिंग हम सिनेमा को तूफान नहीं बना सके ! पद्मावती को चक्रवाती तूफान की तरह अरबसागर से उठ कर सौराष्ट्र की तरफ बढ़ना था ! फ़िल्मी पंडितों के अनुसार यह साइक्लोन केरल, मुंबई गुजरात से होते हुए राजस्थान की तरफ बढ़ता ! चैनल और सोशल मीडिया में अगले दो दिनों में यह तूफान दक्षिणी गुजरात पहुँचता और राजस्थान के कुछ जिलों को छूता हुआ निकल जाता ! इसका असर राजस्थान के सभी जिलों में दिखाई देता, महाराष्ट्र गुजरात के कुछ हिस्सों में इस तूफान से तबाही होती ! पर ये नहीं हुआ ! सोशल मीडिया का सीवियर साइक्लोन पद्मावती अब बोतल में बंद जिन्न है ! पद्मावती जो नहीं कर सकी चक्रवाती ने कर दिया है ! जो चेतावनी मौसम विभाग की ओर से जारी की गई है, वो सब चेतावनी सिनेमा के लिए चैनल को देना था ! यह चक्रवात शनिवार शाम को लक्षद्वीप से गुजर रहा था ! इसकी वजह से चलने वाली हवाओं की गति 150 किलोमीटर प्रतिघंटा से ज्यादा है ! इसकी वजह से केरल, मुंबई के अलावा दक्षिणी गुजरात, यानी सूरत, वड़ोदरा, खंभात की खाड़ी क्षेत्र में नुकसान की आशंका है ! पद्मावती को तूफान की ही तरह राजस्थान के बांसवाड़ा, उदयपुर, चित्तौड़गढ़, डूंगरपुर सिरोही में इसका असर दिखाई देता, शेष राजस्थान में तेज हवाएं चलती, काले बादल छाते , जिससे केवल लाभ का तापमान बढ़ता ! विडंबना देखिये बिना किसी ट्रेलर के प्रकृति ने हंगामा खड़ा कर दिया और प्रकृति के रहते सिनेमा को हम तूफान नहीं बना सके !

Tagged , , , . Bookmark the permalink.

Leave a Reply