रामनवमी से कैशलेश इकोनॉमी तक

कैशलेश इकोनॉमी

आठ नवंबर को आठ बजे की उद्घोषणा के बाद नवमी तिथि से सब कैशलेस होना शुरू हो गए, राम का नाम ले कर नवम्बर नवमी से नए रामराज्य की शुरुआत हो गयी ! नए रामराज्य की यात्रा रामनवमी से कैशलेश इकोनॉमी तक की है ! पुराने रामराज्य में ज़ुबान एटीएम से कम नहीं था, जो बोल दें मिल जाए ! इसीलिए रामायण में चरित्र वरदान दे और ले रहे थे, कहीं एटीएम का कार्ड नहीं दिखता, कहीं एटीएम का कियोस्क नहीं दिखता, बस सब जुबानी चलता था ! शिक्षा देनें वाले वशिष्ठ गुरूजी भी बच्‍चों के सिर के हिसाब से गुरू दक्षिणा धान – चना – मुर्रा – लाई के रूप में ले लेते थे ! पुराने रामराज्य में कैशलेश इकोनॉमी थी और सब राम भजते थे ! ज्यादातर कैशलेस ट्रांजैक्शन के लिए यूजर्स को अच्छी स्पीड वाले इंटरनेट की जरुरत होती है, राम राज्य में अयोध्या से पंचवटी तक पूरा जंगल ही वाई फाई था ! रामराज्य में शबरी के बेर की क़ीमत ,राम सेतु बनाने में बानरों की तनख़्वा, नाँव के केवट का शुल्क सब कैशलेस हुआ ! वनवास में सीता राम और लक्ष्मण के पास लगभग कोई लगेज नहीं था क्योंकि वो कैशलेस थे ! वन जाते समय उर्मिला ने तो अपना कार्ड भी लक्ष्मण को देकर कैश की चिन्ता से निश्चिन्त हो कर सो गयीं ! रामराज्य में राम भरोसे राज्य को छोड़ कर भरत भी कैश की चिंता से मुक्त हो गए और गद्दी पर खड़ाऊँ रख दिया ! पुराने रामराज्य में कैशलेश इकोनॉमी को लेकर संसद में कभी हंगामा नहीं हुआ ! रामराज्य में कैशलेस इकॉनमी से आम लोगों को कभी परेशानी नहीं हुई, जन आक्रोश आंदोलन नहीं हुआ ! कैशलेस ट्रांजैक्शन के लिए स्मार्टफोन, पर्सनल कंप्यूटर और इंटरनेट कनेक्टिविटी की जरूरत तो होती है पर नए रामराज्य में कैशलेश इकोनामी की सब बेसिक समस्याएं हनुमान जी दूर करेंगे !

कैशलेस देश बनने से काले धन को रोकने में काफी हद तक कामयाबी मिलती है जैसे लंका पहुँच के हनुमान जी को पता चला रामराज्य का सारा कालाधन सोने की लंका में था और उन्होंने आग लगा दी ! नए रामराज्य में अपनी लंका अपने सोने से बनाने में जनता जुटी है ! कैशलेस इकॉनमी में बैंक के इलेक्ट्रॉनिक सिस्टम के जरिये लेन-देन करने में वक्त भी बचता है, जिसे हम लाइन में खड़े – खड़े काले धन का राम नाम सत्य हो कह कर बिता सकते हैं, कैशलेस इकॉनमी में दो चार घंटे का कोई मोल नहीं ! रामराज्य में साइबर सिक्योरिटी मजबूत थी ! फिर भी डेटा प्रोटेक्शन में सेंध मार के थोड़ी गड़बड़ी रावण ने कर दी और रामराज्य की लक्ष्मी सीता को ले कर भाग गया पर वो भी जरुरी था, नहीं तो साइबर क्रिमिनल रावण मरता कैसे ?

मानो तो देव नहीं तो पत्थर ! जो भी चाहें नाम दे दें, प्रकृति कैशलेस इकॉनमी से ही चलती है ! पृथ्वी से बनी गंध, जल से बनी रसना, तेज़ से बनी आँखें, वायु से स्पर्श बना, आकाश से बने श्रुति और शब्द ! पंचभूतों से बनी हमारी पाँचों इन्द्रियाँ भी कैशलेस ही चलती हैं ! कैशलेश इकोनॉमी की माँग ने सिद्ध कर दिया कि जीवन और दुनिया के माध्यम से कैश चलता था, कैश से दुनिया और जीवन नहीं चल सका !

कैशलेश इकोनामी के राम राज्य में सभी पुरुष मात्र एक कार्ड – व्रती थे ! इसी प्रकार स्त्रियाँ भी मन, वचन और कर्म से अपने एक कार्ड से ही अपना हित करने वाली थीं ! कैशलेस इकॉनमी के नए रामराज्य की अर्थव्यवस्था में सिर्फ़ राम के अर्थ की व्यवस्था है बाकी सब ठन – ठन गोपाल !

कैशलेश इकोनॉमी का सपना लिए नए रामराज्य का नकदहीन समाज कैशलेस दुःख और कैशलेस दर्द में छटपटाने लगा है ! आये थे रामभजन को ओटन लगे कपास ! जनता न कैश की रही न कार्ड की ! ये सच है नकदहीन समाज में दण्ड केवल फकीरों के हाथों में है और हमारे बीच भी अब कैशलेश इकोनॉमी का एक फ़क़ीर हैं !

कैशलेश इकोनामी का राम राज्य होते ही सर्वत्र हर्ष व्याप्त हो जाएगा, सारे भय – शोक दूर हो जाएँगे एवं दैहिक, दैविक और भौतिक तापों से मुक्ति मिल जाएगी ! कोई भी अल्पमृत्यु, रोग – पीड़ा से ग्रस्त नहीं रहेगा, सभी स्वस्थ, बुद्धिमान, साक्षर, गुणज्ञ, ज्ञानी तथा कृतज्ञ हो जाएँगे !

राम राज्य में सब कैशलेस थे पर कोई थैंकलेस नहीं था ! नए रामराज्य में सब थैंकलेस हैं अभी कैशलेस कोई नहीं ! जहाँ कैशलेस इकॉनमी में चिल्लर सिर्फ़ मोबाइल एप्लीकेशन है वहाँ नया रामराज्य पूरी तरह से कैशलेस नहीं बन पायेगा, लेकिन धीरे धीरे राम भरोसे कुछ हद तक होमलेस और जॉबलेस के साथ नया रामराज्य कैशलेस भी हो जाएगा !

Tagged , , , , , . Bookmark the permalink.

Leave a Reply