दलबदलू का प्रेम पत्र

प्रतीकात्मक तस्वीर : गूगल से साभार

हेलो, जानू लियोनी ! मेरी जानेमन, मेरी ज़िंदगी, मेरी तमन्ना, मेरी खुशी … तुम्हें किस नाम से पुकारूँ, तुम्हें किस तरह से आवाज़ दूँ ?

मेरे शातिर दिमाग़ को तुमसे कैसे प्यार हो गया मुझे आज तक इसका कोई सुराग नहीं है। मैं आज तक तुम्हें अपने दिल की बात नहीं बता पाया ! लिख कर बताऊं भी तो कैसे, यही डर लगता है कि अगर तुमने ना कह दिया तो तुम्हें हमेशा – हमेशा के लिए खो दूँगा ! अभी तुम मेरी हो, मैं तुम्हारे साथ ना सही, तुम ख्यालों में मेरे आसपास ही रहती हो ! लियोनी तुमने मुझे अपनाया नहीं है, लेकिन इनकार भी तो नहीं किया है ना अभी तक ! इसी ख्याल के सहारे मेरे दिन – रात कट रहे हैं कि शायद किसी दिन तुम मेरे प्यार को पहचानो और मेरे पास आकर कहो ” मैने तुम्हारी आँखों में प्यार की दास्तान पढ़ ली है माय लव और आज से हमेशा के लिए मैं तुम्हारी हूँ “

जानू मैंने फिर से दल बदल लिया है ! मैं अब ‘खपा’ में नहीं हूँ, आज से मैं ‘नपा’ में हूँ ! खुश हूँ आज से मेरा फ़ोन नंबर, ई मेल आईडी, बैंक अकॉउंट नंबर और घर का पता सब बदल जायेगा ! फिर भी भारी मन से कहना पड़ रहा है और ये बहुत दुःख की बात है कि पर्सनल दिल – बदल या पोलिटिकल दल – बदल की खबरें अब किसी को भी चौंकाती या हैरान नहीं करती हैं !

जानू तुम जानती हो मैं ‘खपा’ में विचारों की वजह से था ! पिछड़ों और दलितों के लिए काम करने वाली पार्टी अब सिर्फ कॉरपोरेट्स से पैसे लेकर राजनीति में ला रही है ! ‘खपा’ में वसूली के सिवा कोई काम नहीं हो रहा था ! पार्टी में विचार खत्म हो चुके थे, इसलिए मैंने साहेब के कामों और विचारों से प्रेरित होकर ‘नपा’ ज्वाइन कर ली है ! आज दल बदलने के शुभ अवसर पर हो रहे प्रेस कॉन्फ्रेंस में पिछले दस साल में राज्य की माली हालत ख़राब करने का ठीकरा मैं स्वयं कल तक जिस पार्टी में था उसके सर पर ही फोड़ दूंगा ! शराब का ठेका, होटलों की सस्ती नीलामी, करोड़ों रुपये की वैट चोरी, का माल जिस थाली में कल तक खा रहा था आज उसी में छेद कर दूंगा ! जानू मुझे धोबी का कुत्ता नहीं बनना ! आज कई नेता अपनी पार्टी में धोबी के कुत्ते वाली हालत में हैं, ना घर के ना घाट के ! तुम्हारा दलबदलू अपना घर और घाट समय पर चुन लेता है ! ‘नपा’ में अब तक मुझे बहुत सम्मान मिला है ! आगे भी उम्मीद है कि जैसा मैंने ‘नपा’ के लिए सोचा था, वैसा ही होगा ! किसी एक – दो सीट से कभी बात नहीं बनती – बिगड़ती ! जानू लियोनी, पार्टी में अपना नाम नहीं देख कर दिल या दल मत बदल लेना ! अभी पहली लिस्‍ट आई है ! मेरे रहते तुम जैसी किसी कार्यकर्ता या नेता को अपमानित नहीं होना पड़ेगा ! हम दोनों के दिल का जब तक तालमेल बना रहेगा, तुम बेफिक्र रहो दल में सीटों का तालमेल भी बना रहेगा !

” चुनावी बिगुल के बजते ही इन बिन पेंदी के लोटों को कुछ – कुछ होने लगता है … ये सावन के अंधे चुनाव के माहौल में सिसकारी मारने लगते हैं … ये थाली के बैंगन अपनी खीचड़ी अचानक अलग पकाने लगते हैं ! ” तुम बताओ मेरे बारे में ये सब कहना क्या बहनजी को शोभा देता है ? हाँ ये सच है कि उन्होंने कहीं मेरा नाम नहीं लिया, लेकिन पार्टी में सब जानते हैं कि आज की सब टिप्पणी बहनजी ने मेरे लिए ही की है ! मैं राजनीति में होने के कारण हर शख्स के कॉन्टैक्ट में हूं ! इसका कोई गलत मतलब नहीं निकाला जाना चाहिए ! दल बदलने में कोई बुराई नहीं है !

मैं बहनजी से हाथ जोड़कर माफ़ी मांगता हूँ और उनके इस चुनाव से विदा लेता हूँ ! जानू मैं प्रण करता हूं आज़ादी की शाम नहीं होने दूंगा, वीरों की समाधि को बदनाम नहीं होने दूंगा, जब तक तन में गरम लहू की एक बूंद भी बाक़ी है, मात्रभूमि का आंचल बदनाम नहीं होने दूंगा !

जानू मैं अपना सच जानता हूँ ! मेढकों को तराजू में नहीं तौला जा सकता यह कहावत मेरे लिए ही है ! हाँ मैं एक दलबदलू हूँ ! पर जो मुझे दलबदलू कहकर बदनाम करने में लगे हैं वो अपनी चिंता करें ! अब उनके प्रेस नोट को भी कोई पढ़ना नहीं चाहता ! मैं जानता हूँ मेरी उछल – कूद की प्रवृत्ति से समाज हैरान – परेशान है, पर ऐसा करने वाले नामों की फेहरिस्त लंबी है, और मुझे गर्व है मेरा नाम सबसे ऊपर है ! इस बात का मुझे अपार हर्ष हैं कि मुझे देखते ही लोग कहते हैं ‘ राजनीति में कोई किसी का सगा नहीं होता !’ राजनीती में अपनी दलबदलू सूझ बूझ से ही मैं कभी न छोटी की जा सकने वाली दलबदलू परंपरा की लकीर को लंबा कर पाया हूँ !

जानू इस बात से दुखी हूँ कि दलबदलू जैसे गुप्त राजनितिक चाल को ‘सबका साथ सबका विकास’ का नारा लगाते हुए सार्वजनिक किया जा रहा है और हर दलबदलू को पार्टी में घुसाया जा रहा है ! पार्टियों ने हम जैसे छोटे छोटे दल-बदलुओं के लिए भी बड़े बड़े दरवाज़े खोल दिए हैं ! अक्सर मैं सोचता हूँ, आखिर सभी दलों को दल-बदलू क्यों पसंद आते हैं ? क्या राजनीति में निष्ठा, नीति और नीयत की बातें बेमानी हो गयी हैं ? क्या आज सियासत भी कॉरपोरेट घराने की तरह हो गई है जहां लोग पैसा, पावर और पद के लिए सारे रिश्ते नाते भूल जाते हैं ?

जानू लोकतांत्रिक समाज में हर व्यक्ति की अपनी सोच होती है और वह उसे कभी भी बदलने का अधिकार रखता है ! दल-बदल को राजनीतिक प्रक्रिया का एक सामान्य अंग ही माना जाना चाहिए ! आज तुमने ट्वीटर पर कहा कि तिवारी ने मुझे आया – राम, गया – राम बुलाया है ! जानू मुझे अपने ऊपर भरोसा है अगर प्रेस रूम में भी कोई बार बार मेरे मुँह पर मुझे आया – राम, गया – राम बुलाएगा फिर भी मुझे कोई फर्क नहीं पड़ेगा ! मैं अपने कान की खाल इतनी मोटी कर चुका हूँ जिस पर सब मिल कर भी अगर इस नाम का ढ़िढोरा पीट लेंगे तो मुझे कोई फर्क नहीं पड़ेगा ! जानू तुम जानती हो न हाथी चले बाजार तो कुत्ते भोंके हजार ! पर जानू लियोनी, इस बात की कोई गारंटी नहीं है कि मुझ जैसे दिग्गज दलबदलुओं द्वारा भी पार्टी चुनाव जीत ही लेगी ! आज के युग में क्या किसी को किसी बात के लिए गारंटी देता है ?

चोटी के सशक्त राजनेताओं के बीच अपनी जगह बनाने की तुम्हारी महत्वाकांक्षा ने मुझे तुम्हारे और क़रीब ला दिया है ! दलबदलू नेता जनता के बीच अपनी जो विश्वसनीयता खो चुके हैं वो तुम्हारे राजनीती में आने से लौट सकती है ! तुम्हारे साथ मेरे चुनावी सभा की माँग बढ़ जाएगी ! शक्ति प्रदर्शन में तुम मेरा साथ दे सकती हो ! सत्ता की दौड़ की राजनीति के मैदान के खिलाड़ी दलबदलू परम्परा से जो खेल खेलते चले आ रहे हैं, मुझे भरोसा है तुम इस खेल को खेल कर हम दलबदलुओं को एक नयी चाल दोगी ! तुम एक मेहनती औरत हो और कड़ी मेहनत से तुमने पैसे कमाए हैं ! युवा पीढ़ी के लिए तुम एक अच्छी मॉडल हो ! राजनीति, नौकरशाही और मीडिया में मेरे मित्रों को भी तुम्हारे दिल – बदलु टैलेंट पर बहुत भरोसा है ! तुमने नाम बदला ! पेशा बदला ! देश बदला ! अब तुम मेरी तरह भारतीय राजनीती भी बदल डालो ! तुम्हारे पास दोहरी राष्ट्रीयता है अब तुम अपनी दोहरी मानसिकता भी दिखा दो ! कामुक नर्तकी से तुम अश्लील फिल्म अभिनेत्री बनी, व्यापार-जगत से जुड़ी, और मॉडल होने के बाद आज बिन पेंदी के लोटे बॉलीवुड की एक सुपर स्टार हो ! तुम्हारी तुलना सुनहरे पर्दे की मीनाकुमारी और मधुबाला से की जाने लगी है ! राजनीति में आ कर तुम अपनी तुलना मैडम, दीदी, बहनजी से करवा सकती हो ! जैसे तुमने प्रोफेशन बदला है वैसे अगर तुम दल बदलोगी तो मेरी भविष्यवाणी है कि तुम भविष्य में प्रधानमन्त्री बन जाओगी ! अश्लील फिल्म के बाद राजनीति में मेरे साथ और प्रसिद्धि पाने के लिए तुम्हे तरह-तरह के विवादों और अफ़वाहों से घिरा रहना पड़ेगा ! हम दोनों की यही बात पत्रकारों को आकर्षित करेगी ! मेरे साथ तुम्हारी ज़िन्दगी की विस्मयकारी दास्तान तुम्हे महान नेता बना देगी ! ‘आधी छोड़ सारी को धावे, सारी रहे न आधी पावे’ मुहावरे को तुम ही झुठला सकती हो लियोनी ! आधी, सारी सब छोड़ के दलबदलू राजनीति को सत्ता के खेल में तुम ही निर्वस्त्र कर सकती हो !

तुमको पत्र लिखते हुए हमेशा डरता हूँ, सोचता हूँ कभी मेरा अकाउंट हैक हो गया तो क्या होगा ? फिर तुम्हारी एक फ़िल्मी बात मेरी कानो में गूंजने लगती है और मुझे वो पल याद आ जाता है जब तुम अपनी लियोनी अदा में मुझसे कहती हो ” लोगों से सुना है किताबों में लिखा है / सब ने यही कहा है / प्यार करने वाले कभी डरते नहीं / जो डरते हैं वो प्यार करते नहीं … ” फिर मैं कहता हूँ ‘तुम ही मेरी लियोनी हो ! लियोनी असली और नकली नहीं होती …’ इस बात पर तुम कितनी हंसती हो … और हँसती हुई बिलकुल सच्ची सलोनी लियोनी लगती हो …

मेरी जेब की मुद्रा स्थिति से ले कर मेरे शरीर मुद्रा की हर स्थितियाँ मेरी कल्पना में तुम जानती हो ! जानू तुम इस दलबदलू को कभी अकेला मत छोड़ना ! कल मैं अपने दिल की फिर सुनूँगा ! दिल जब बोलेगा बदल जाऊंगा और कोई दल जब बुलाएगा तो दिल बदल लूँगा ! मैंने तो दल बदल लिया है अब देखना है मेरे पीछे – पीछे मेरे क्षेत्र की जनता भी अपना दिल बदल कर मेरा साथ देती है की नहीं …

बी बी सी की टीम दलबदलू नेताओं पर फीचर में मुझसे इंटरव्यू लेने आयी है, मुझे अभी जाना पड़ेगा …

तुम्हारा और सिर्फ़ तुम्हारा जानू दलबदलू
चीयर्स

अभी आप इन्टरनेट के माध्यम से जमा किया गया एक दलबदलू का प्रेम पत्र पढ़ रहे थे ! सोशल मिडिया के परदे के पीछे से एक दलबदलू की आभासी उपस्थिति को पढ़ कर मुझे लग रहा है कि दलबदलू बिचारा होता है और अपने दिल का मारा होता है ! मैंने एक दलबदलू के वर्चुअल लव लाइफ को सामाजिक हित में हैक किया है ! मेरे इस कृत्य का किसी राजनितिक सीट को बनाए रखने से कोई लेना देना नहीं है ! दलबदलू जो अपनी पार्टी के साथ करते हैं वही अपने दिल के साथ भी करते हैं ! दलबदलू दिल और दल एक काल्पनिक – दैविक मज़बूरी में बदलते हैं ! प्रिये काका हाथरसी ठीक कह गए हैं, दलबदलू दार्शनिक होते हैं ! – एक देशप्रेमी हैकर, जय हिन्द !

Tagged , , , , , . Bookmark the permalink.

Leave a Reply