गर्रम – चाय

नास्त्रेदमस

लगभग साढ़े चार सौ साल पहले की बात है ! गर्मी के दिन थे ! भविष्य की बातों की घोषणा करने के लिए मशहूर नास्त्रेदमस नहा रहे थे ! दुनिया की घटनाओं से भरी नास्त्रेदमस की बाल्टी गा रही थी और सुग्गा रूपी मग्गा साथ में बज रहा था ! लकड़ी से बनाये गये टब में बैठे नास्त्रेदमस नहाते – नहाते अपने क्रिस्‍टल बॉल से खेल रहे थे और नोट्स बना रहे थे ! नास्त्रेदमस के पारदर्शी क्रिस्‍टल बॉल में बार बार एक लड़का गर्मी में भी चाय बना कर उसे बेचने भाग रहा था ! ‘ गर्रम – चाय, चाय – गर्रम ‘ की आवाज़ से नास्त्रेदमस का स्नान घर गूँज उठा !

लड़के को क्रिस्टल बॉल में देख कर नास्त्रेदमस ने उसे पहचान लिया ! वो नरेंद्र चायवाला था ! नास्त्रेदमस ने पहचान लिया गर्मी से परेशान ये सात साल का चाय वाला और कोई नहीं भारत का प्रधानमंत्री है ! फ्रांस में बैठे – बैठे नास्त्रेदमस ने गुजरात के एक चाय वाले छोकरे से एक कप चाय ले कर पी ! उन दिनों नरेंद्र चाय बेचते – बेचते गुजराती में हिन्दी सीख रहा था ! नास्त्रेदमस नरेंद्र से फ्रेंच में बात कर रहे थे ! नरेंद्र धरल्ले से जवाब दे रहा था क्योंकि पन्द्रह सौ पचपन में फ़्रेंच गुजराती से मिलती जुलती भाषा थी !

बहादुर नरेन्द्र ने भी नास्त्रेदमस को पहचान लिया था ! नरेंद्र जानता था भविष्य जानने के लिए प्रातः काल या संध्या काल को श्रेष्ठ माना जाता है और एकांत वाली जगह को उत्तम माना जाता है ! इसलिए नरेन्द्र नास्त्रेदमस से मिलने भविष्य के बुलेट ट्रेन में बैठ कर चाय बेचता हुआ क्रिस्‍टल बॉल के माध्यम से फ्रांस में उनके स्नान गृह पहुँच गया था ! नास्त्रेदमस जान गए कि भविष्य में नरेंद्र चाय वाला उनकी तरह ही लैटिन, यूनानी और हीब्रू भाषाओं के अलावा गणित, शरीर विज्ञान एवं ज्योतिष शास्त्र जैसे गूढ विषयों पर विशेष महारत हासिल कर लेगा और आकाशवाणी में सबसे अपने मन की बात कर सकेगा ! बुद्धि – चातुर्य और ताकत की वजह से यह एशिया पर राज करेगा !

नरेंद्र के चेहरे पर बचपन में भी बुद्धिमत्ता, कुलीनता और सम्पन्नता की छाप स्पष्ट देखी जा सकती थी, पर नरेंद्र चंचल था ! नरेंद्र का ध्यान खींचने के लिए नास्त्रेदमस चाय की चुश्कियों के साथ मस्तिष्क तरंगों से नरेंद्र की केतली को बार बार अपनी ओर मोड़ देते !

नास्त्रेदमस एक नए स्वर्ण युग को नरेंद्र की चाय की केतली में उबलता हुआ घण्टों देखते रहे ! संकेतों को पढ़ कर नरेंद्र चायवाले के लिए नोस्ट्राडामस ने अपनी भविष्यवाणियों को क्रम में लिखा फिर उन्हें हवा में फेंक दिया ! उन्होंने लिखा ‘ चीन, उत्तर कोरिया, वियतनाम, कंबोडिया और अन्य पूर्वी एशियाई राष्ट्र साम्यवाद को छोड़ देंगे ! मध्य एशिया में नरेंद्र चायवाला एक महत्वपूर्ण व्यक्ति होगा, जो एक परामर्शदाता के रूप में सम्राट और अन्य विश्व के नेताओं के साथ उनके सामने समान मेज पर बैठेगा ! प्राचीन देवताओं के मंदिरों और मूर्तियों को बुलेट ट्रेन में घुमायेगा ! मंगल ग्रह की ओर जाने वाले यान की तस्वीर दो हज़ार के नोट पर छापेगा ! ‘

‘इस गर्मी छुट्टी में मुझे और क्या करना चाहिए ?’ नरेंद्र ने पूछा ! ‘ इस गर्मी छुट्टी में ‘स्वयंसेवक’ बन जाओ तुमको आध्यात्मिकता की खुराक मिलेगी ‘ नास्त्रेदमस ने क्रिस्‍टल बॉल से खेलते हुए जवाब दिया ! ‘ लेकिन मुझे ऐसा करने के लिए पैसे की ज़रूरत नहीं पड़ेगी ?’ मासूम नरेंद्र ने पूछा ! ‘ जितना पैसा किसी कॉलेज की शिक्षा पर खर्च करोगे, उतना पैसा नहीं ‘ नास्त्रेदमस ने नरेंद्र की आँखों में आँखें डालते हुए जवाब दिया ! ‘ सुनो नरेंद्र भविष्य में आए दिन सोशल मीडिया पर तुम्हारे नए – नए जोक्स वायरल होंगे ! जब – जब ऐसा हो तो एक महीने के लिए सोशल मीडिया से दूर रहना ! जाओ ज़िन्दगी जियो नरेंद्र ! प्रधानमंत्री बन कर पाँच साल में धरती का कोई भी देश यात्रा से बचना नही चाहिए ! किसी को पता न चले कि तुमने चुनाव जीता या वर्ल्ड टूर का पैकेज ! अमेरिका जा कर मार्क ज़ुकरबर्ग से मिलना और कैंडी क्रश रिक्वेस्ट को बन्द करने के गम्भीर मामले पर एक बार विचार जरूर करना ! विश्व भर की युवा पीढ़ी इस बात के लिए तुम्हारी ऋणी होगी !’ उस दिन अपना भविष्य सुन लेकर नरेंद्र के हाथ से खाली केतली छूट गयी ! नरेंद्र ने फिर दुबारा केतली नहीं उठाया ! वो जान गए थे भविष्य में उन्हें जेटली मिलेगा !

स्नान घर में नास्त्रेदमस ने आगे कहा ‘ नरेंद्र पचपन साल में सब तुम्हारे सेवक होंगे और चार सौ पचपन साल में तुम्हारे राज के गर्मी में जो भी कुछ सस्ता होने की उम्मीद करेंगे वो खुद अपनी नज़र में सस्ते हो जायेंगे ! ‘

नास्त्रेदमस ने १५ वीं सदी में ही भाजपा का उल्लेख किया है ! अपने सेंचुरी ग्रन्थ में फ़्रांसिसी भविष्यवक्ता ने भविष्य की भाषा हिंदी में लिखा ‘ भाजपा राज में थोड़ी सी चतुराई भरी सोच और सरलता से लड़कियाँ रेप किये जाने से बच जाएँगी ! उत्पाद बात करेंगे ! टेलीविजन चैनल भगवान के दूत होंगे ! मोदी राज में त्वचा को गोरा करने वाली सभी क्रीमें बे – असर हो जाएँगी ! नरेन्द्र की एक अप्रत्याशित घोषणा, रियल एस्टेट डेवलपर्स और व्यापारियों को सबसे अधिक प्रभावित करेगी, क्योंकि दोनों ही आम तौर पर करों का भुगतान करने से बचने के लिए नकदी में काम करते हैं ! ‘

नरेंद्र ने भी अतीत में चाय बेचते हुए अपना भविष्य देख लिया था ! नास्त्रेदमस नरेंद्र के साथ बाहर टहलने निकले, उन्होनें बाग़ में एक युवक को देखा और जब वह युवक पास आया तो नास्त्रेदमस ने उसे आदर से सिर झुकाकर नमस्कार किया ! बगल में खड़े नरेंद्र ने आश्चर्यचकित होते हुए इसका कारण पुछा तो उन्होने कहा कि यह व्यक्ति आगे जाकर पोप का आसन ग्रहण करेगा ! किंवदंती के अनुसार वास्तव मे वह व्यक्ति फेलिस पेरेती था जिसे १५८५ मे पोप चुना गया !

नरेंद्र चायवाला भी २०१४ में प्रधानमंत्री बना और वो सब बात सच हुई जो नास्त्रेदमस ने १५५५ में उस गर्मी के दिन नहाते हुए लिखा था ” भारत का प्रतिनिधित्‍व एक ऐसा व्‍यक्ति करेगा जिससे शुरुआत में लोग बहुत ही नफरत करेंगे लेकिन बाद में जनता और बाकी सभी लोग उसे उतना प्‍यार देंगे कि वह अगले बीस साल तक भारत का प्रधानमंत्री रहेगा “