तीन बार ठोका

सब कह रहे हैं तीन बार ठोका ! मुझे लगता है ये दुरुस्त संकेत है ! घर की दिवार और चबूतरे को कई राजमिस्त्री तीन बार ठोक के सीमेंट बालू के मसाले की मजबूती देखते हैं ! मोबाइल फ़ोन, रेडियो, टेलीविजन को अब भी लोग गाँव में बजाने से पहले तीन बार ठोकते हैं ! एक प्रसिद्ध कव्वाल अपनी महफ़िल शुरू करने से पहले माइक को तीन बार ठोकते थे ! कई ताले हैं जिनको जब तक तीन बार न ठोको नहीं खुलता ! एक ग्वाला अपनी भैंस को दुहने से पहले भैंस की पीठ तीन बार ठोकता था, ऐसा करने से भैंस ज्यादा दूध देती है ये उसका मानना था ! कई तबलचियों और ढोलकियों को मैंने तबला ढोलक को तीन बार ठोकते हुए देखा सुना है ! अपनी मोटरसाइकिल में स्ट्रोक देने से पहले एक दरोगा मोटरसाइकिल को तीन बार ठोकते थे ! घर का दरवाज़ा मेरे बड़े भाई तीन बार ठोकते हैं तब भाभी खोलती है ! मेरी खाना बनाने वाली सिलिंडर ऑन करने से पहले गैस का चूल्हा तीन बार ठोकती है ! ज्यादा स्पार्क के लिए, आवाज़ के लिए, दूध के लिए, ज्ञान के लिए, सुख के लिए, सीट के लिए, हम भारतीय हर चीज को तीन बार ठोकते हैं ! ठोक बजा के देखने में क्या बुराई है !